सिकटा

अनियमितता की जांच में अगर लिपापोती हुई तो वे चुप नही बैठेंगे।- सिकटा विधायक वीरेंद्र प्रसाद गुप्ता

Spread the love

अनियमितता की जांच में अगर लिपापोती हुई तो वे चुप नही बैठेंगे।- सिकटा विधायक वीरेंद्र प्रसाद गुप्ता

कटाव निरोधक कार्यों में घोर अनियमितता हुई है।

अस्मितभारत बेतिया। भाकपा माले के सिकटा विधायक बीरेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने कहा है कि गंडक नदी पर बने पीपी तटबंध पर कटाव निरोधक कार्य में बरती गयी अनियमितता की जांच में अगर लिपापोती हुई तो वे चुप नही बैठेंगे। कटाव निरोधक कार्यों में घोर अनियमितता हुई है। क्षेत्रीय राजनेताओं ने भी तटबंधों पर जाकर देखा है। तटबंधों के सुरक्षा से जनमानस,घर-बार,खेत-खलिहान सबकुछ का सुरक्षा है। लेकिन कटाव निरोधक कार्यों में अनियमितता प्रकृति विभत्स व अपराधिक है। विधायक ने कहा कि मामूली जलस्तर बढ़ने से स्टर्ड अनियमितता की सारी बातें सामने आ गई। ऐसे में जलस्तर में अप्रत्याशित वृद्धि पर तटबंध की सुरक्षा दाव पर होगी। अगर तटबंध को नुकसान हो गया,तब सैकड़ों गांव की आवाम तबाह हो जाएगी। खेत-खलिहान सबकुछ बर्बाद हो जाएगा। जानमाल की खतरा हो सकती है। उन्होंने कहा कि एजेंसियों पर कार्रवाई में बिलंब हो रही है। कटाव निरोधक कार्य में अब ना सुधार संभव है,ना मौसम अनुकूल है। विधायक ने बाढ़ एक्सपर्टों की अनुभव की बात साझा करते हुए कहा कि अगर एक बार कैरेटिंग के दौरान गड़बड़ी व त्रुटि हो गई,तब उसमें सुधार करने के लिए पूरे कैरेंटिंग खोलना पड़ता है। ऐसे में अब बोल्डर कैरेंटिंग में सुधार संभव नही है। एजेंसियों ने सिड्यूल रेट के बावजूद एंटीरोजन कार्य में धांधली किया है। 15 जून से बाढ़ संघर्षात्मक कार्य का समय शुरू हो जाएगा। इस समय से तटबंधों की सुरक्षा फ्लड फाइटिंग किया जाता है। लगभग 24 करोड़ के तटबंध बचाव के पैकेज को एजेंसिंयों एवं जिम्मेदारों ने लूट खसोट करने काम किया है। स्टर्डों,स्परों के निर्माण व री-स्टोरेशन में कैरेंटिंग वॉयड्स लूट सह बोल्डर लूट का खेल सार्वजनिक हो चुका है। आनियमितता,धांधली व लूट खसोट का खेल क्षेत्रीय विधायक धीरेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ रिंकू सिंह व एमएलसी भीष्म साहनी ने भी जाकर देखा है। बात सरकार तक पहुंच चुकी है। विभाग पीपी तटबंध पर कटाव रोधी कार्य में गडबड़ी की सारी हदें जान चुका है। फिर भी कार्रवाई में बिलंब हो रही है।निष्पक्ष रुप से जांच व कार्रवाई के बजाय अगर लिपापोती की खेल की गई तो वे (माले विधायक) चुप नहीं बैठेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *