बेतिया

जिलाधिकारी द्वारा छठ घाटों का लिया गया जायजा

Spread the love

जिलाधिकारी द्वारा छठ घाटों का लिया गया जायजा

साफ-सफाई, बैरिकेडिंग, नाव, नाविक, गोताखोर, चेंजिंग रूम आदि व्यवस्था सुदृढ़ करने का निदेश।

अस्मितभारत बेतिया।  जिलाधिकारी, कुंदन कुमार द्वारा आज सागर पोखरा, उतरवारी पोखरा, संत घाट आदि छठ घाटों का जायजा लिया गया तथा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया।

उन्होंने कहा कि छठ पर्व के अवसर पर काफी संख्या में छठव्रती महिला-पुरूष विभिन्न नदी घाटों एवं तालाब घाटों पर एकत्रित होकर भगवान भास्कर को अर्घ्य देंगे। इस दौरान अर्घ्य देने के समय भीड़भाड़ वाले घाट पर भगदड़ नहीं मचे, कोई भी श्रद्धालु पानी में डूबे नहीं इसका खास ख्याल रखना है। इसके साथ ही जिले के सभी छठ घाटों पर साफ-सफाई आदि की व्यवस्था पुख्ता रखनी है ताकि छठव्रतियों को परेशानी नहीं हो।

इस अवसर पर उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, एसडीएम, बेतिया, नगर आयुक्त, नगर निगम, बेतिया, विशेष कार्य पदाधिकारी, जिला गोपनीय शाखा सहितअन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

वहीं इस निमित जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समीक्षात्मक बैठक सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल अधिकारी, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर निकाय, थानाध्यक्ष को निदेश दिया गया है कि सभी घाटों, संवेदनशील नदी/तालाबों का संयुक्त रूप से निरीक्षण कर छठ घाटों की गहराई का आकलन करें तथा जहां गहराई ज्यादा हो वहां पर मजबूत बैरिकेडिंग कराना सुनिश्चित करें ताकि कोई हताहत नहीं हो। ज्यादा गहराई वाले घाटों पर इसके आगे जाना खतरनाक है की तख्ती लगवाना भी आवश्यक है ताकि सभी श्रद्धालुओं को स्पष्ट रूप से दिखाई दें।

जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि सभी घाटों पर साफ-सफाई, बैरिकेडिंग के साथ ही साथ पूरे छठ घाट परिसरों में आयोजकों से समन्वय स्थापित कर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाय। साथ ही पर्याप्त संख्या में चेंजिंग रूम की भी व्यवस्था अनिवार्य रूप से की जाय ताकि श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े।

सभी अंचल अधिकारियों को निदेश दिया गया है कि संवेदनशील नदी एवं तालाब घाटों पर नाव के साथ नाविकों, गोताखोरों की प्रतिनियुक्ति की जाय। घाटों पर किसी भी प्रकार की दुर्घटना ना हो इसे रोकने हेतु निजी नाव के परिचालन को प्रतिबंधित करने हेतु निदेशित किया गया है।

जिलाधिकारी द्वारा सिविल सर्जन को निदेश दिया गया है कि सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में आवश्यक दवाईयों के साथ डाॅक्टर ससमय उपस्थित रहेंगे तथा एंबुलेंस को अपडेट रखेंगे। इसके साथ ही महत्वपूर्ण छठ घाटों पर चिकित्सीय दल/एंबुलेंस/आवश्यक दवाई/पारा मेडिकल स्टाॅफ आदि की प्रतिनियुक्ति करने हेतु निदेश दिया गया है। छठ घाटों पर पटाखों की बिक्री एवं पटाखे चलाने पर पूर्णतः प्रतिबंध लगा दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *